बसपा छोड़ सपा मे शामिल हुई सुषमा पटेल, इस विधानसभा क्षेत्र से लड़ सकती हैं चुनाव

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : ससुराल की दहलीज पर कदम रखते ही राजनिति विरासत में पाने वाली मुंगराबादशाहपुर बसपा विधायक सुषमा पटेल शनिवार को लखनऊ में राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में सपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। सुषमा पटेल 2017 में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर मुंगराबादशाहपुर से चुनाव लड़ी थी। जिसमें भाजपा की तत्कालीन विधायक सीमा द्विवेदी को पराजित कर विधायक चुनी गई। वैसे जिले में इस बात को लेकर लोग पहले से ही अटकले लगा रहे थे कि सुषमा का सपा में जाना तय है। क्योकि इसके पहले मड़ियाहूं में आयोजित कार्यक्रम में वह अखिलेश यादव से मिल चुकी थी। इसके पूर्व इनके पति ने भी सपा की सदस्यता ग्रहण की थी। सुषमा की सास व ससुर मड़ियाहूं विधानसभा से विधायक रहे हैं।सपा का दामन थामने वाली सुषमा ने एक निजी चैनल सेे बात की। उन्होंने बताया कि वह बसपा से अपने राजनितिक जीवन का सफर शुरु की। 15 जनवरी 2015 को बसपा से टिकट फाइनल हुआ और मेहनत की। 2017 का चुनाव बसपा से लड़ी। विधायक चुने जाने के बाद पार्टी के लिए दिन रात काम करती रही। वर्ष 2020 में बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त होने के गलत आरोप में पार्टी से निलंबित कर दिया। पति रणजीत सिंह पहले ही सरकारी सेवा छोड़कर सपा की सदस्यता ग्रहण कर चुके हैं। सुषमा पटेल से पूंछा गया कि क्या मुंगरा से या मड़ियाहूं से चुनाव लड़ेगी। जवाब दी कि नहीं अभी कुछ नहीं कह सकती हूं। राष्ट्रीय अध्यक्ष का जो आदेश होगा वही करुंगी। सुषमा ने कहा कि अपने साथियों व कार्यकर्ताओं के साथ पूरी तरह से विचार विमर्श के बाद वह सपा की सदस्यता ग्रहण की।

सुषमा पटेल मूलरूप से मड़ियाहूं विधानसभा क्षेत्र की साहोपट्टी की रहने वाली हैं। इनके ससुर दूधनाथ पटेल 1985 में लोकदल से व सास सावित्री पटेल 1989 में जनता दल और फिर 1993 में सपा-बसपा गठबंधन से मड़ियाहूं से ही विधायक रह चुकी हैं। हालांकि इनके परिवार की राजनीतिक पृष्ठभूमि को देखते हुए मड़ियाहूं में भी सियासत गरमा गई है।

जौनपुर निवासी प्रकाश चंद पटेल की पुत्री सुषमा पटेल का जन्म तीन मई 1989 को हुआ था। इन्होंने जीव विज्ञान में पीएचडी की। आइएएस की तैयारी कर रही थीं। इस दौरान वर्ष 2008 में मड़ियाहूं के विधायक दूधनाथ पटेल एवं सावित्री पटेल के पुत्र रणजीत सिंह पटेल से इनका विवाह हो गया। पति जिला समाज कल्याण अधिकारी पद पर कार्यरत रहे। राजनीतिक परिवार में विवाह होने के कारण सास की प्रेरणा से सुषमा पटेल 2017 में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर मुंगराबादशाहपुर से चुनाव लड़ी और विधायक चुन ली गईं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button