अपर्णा यादव बोलीं- शिवपाल ने समाजवादी पार्टी के लिए पुलिस से खाया था थप्पड़

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : उत्तर प्रदेश की राजनीति में मुलायम सिंह यादव के परिवार का खासा महत्व है। इस परिवार के लगभग सभी लोग राजनीति में सक्रिय हैं। परिवार की सबसे छोटी बहू अपर्णा यादव भी अपने बयानों के जरिए अक्सर ही सुर्खियों में रहती हैं। हाल में ही दिए गए एक इंटरव्यू में अपर्णा परिवार और पार्टी के संघर्ष के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दीं।एक निजी चैनल के साथ बातचीत में उन्होंने बताया कि उनकी अखिलेश और मुलायम दोनों से बात होती है। पिछले कुछ समय से मुलायम की तबीयत ठीक नहीं है इसलिए उनसे बातें कम हो रही हैं।

उन्होंने कहा कि वो आगामी विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी बनना चाहती हैं। लेकिन इसका फैसला मुलायम और अखिलेश ही करेंगे। उन्होंने कहा कि अब तक टिकट को लेकर अखिलेश यादव से उनकी कोई बात नहीं हुई है।

अखिलेश और शिवपाल का गठबंधन – सपा और शिवपाल यादव की पार्टी के गठबंधन को लेकर अपर्णा ने कहा कि मैं चाहती हूं कि दोनों एक होकर चुनाव लड़ें। अपर्णा ने कहा, शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी के लिए रीढ़ की हड्डी की तरह थे। अगर वह सपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ते हैं तो पार्टी को निश्चित रूप से फायदा होगा।

अपर्णा ने बताया कि शिवपाल हमेशा मुलायम के साथ खड़े रहे। एक बार वह बचने के लिए बोरे में छिप गए थे और लाठियां खाईं थीं। यहां तक कि एक पुलिस इंस्पेक्टर ने उन्हें एक बार थप्पड़ मार दिया था। उन्होंने पार्टी के लिए बहुत संघर्ष किए हैं। लेकिन अखिलेश यादव की इच्छा पर ही गठबंधन का फैसला होगा।

क्या अपर्णा बनेंगी दोनों नेताओं को मिलाने की धुरी? – अपर्णा ने कहा कि मैंने दोनों लोगों को मिलाने की कोशिश की है, लेकिन उन्हें ही इसका भुक्तभोगी बनना पड़ा। उन्होंने कहा कि विधान सभा चुनाव 2017 में उन पर गलत टिप्पणी की गई थी, जिससे बेहद ठेस पहुंची थी। उस चुनाव ने बहुत कुछ सिखाया भी है। बकौल अपर्णा, मैं पिछला चुनाव जीत सकती थी लेकिन पार्टी के बीच हुए बिखराव के कारण मुझे हार का सामना करना पड़ा था।

शिवपाल यादव ने हाल में ही दिए गए एक इंटरव्यू में कहा था कि राजनीति में संभावनाएं कभी खत्म नहीं होती। हमारा यह प्रयास है और हमारी प्राथमिकता भी है समाजवादी पार्टी से गठबंधन हो। वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने चाचा से गठबंधन को लेकर साफ तौर पर कुछ नहीं कहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button