सुरेंद्र सिंह के फिर बिगड़े बोल, मंत्री की मौजूदगी में BSA को कहा-खुराफाती अधिकारी…

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक सुरेंद्र सिंह ने सूबे के संसदीय कार्य राज्य मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला की मौजूदगी में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के प्रति कथित तौर पर अशिष्ट और आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया।बलिया के बैरिया क्षेत्र से भाजपा के विधायक सिंह ने सोमवार को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय प्रांगण में पिछले चार दिनों से धरना दे रहे प्राथमिक शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार को असहज करने वाली बयानबाजी की। सिंह ने कहा कि शासन से ‘खुराफाती’ अधिकारी को ही बलिया भेजा जाता है। उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी शिव नारायण सिंह की तरफ इशारा करते हुए कहा कि इसको सुधारा जाएगा।

उन्होंने शिक्षकों से कहा कि आप लोग प्रयत्न करिये और इसको बलिया की भाषा में सुधारिये। इस जिले में कुछ समय पहले ऐसा ही जिला विद्यालय निरीक्षक आया था। हम लोगों ने जिलाधिकारी के सामने ही उसका स्वागत बढ़िया तरीके से कर दिया था। वह खुद अपना तबादला कराकर यहां से चला गया। उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी शिव नारायण सिंह की तरफ इशारा करते हुए कहा कि हम ऐसा चाहेंगे कि यह स्वयं आवेदन पत्र दें कि हमको बलिया से जल्द हटा दिया जाये और यह खुद यहां से चले जायें।

सिंह ने संसदीय कार्य राज्य मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला से मुखातिब होते हुए कहा कि वह बलिया को बदलने के लिए नेतृत्व करें, वह उनके साथ रहेंगे और तब सारे अधिकारी ठीक हो जायेंगे। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी तथा जिला समन्वयक पर उत्पीड़न के आरोप में कार्रवाई तथा अन्य मांगों को लेकर प्राथमिक शिक्षक संघ से जुड़े शिक्षक जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय परिसर में धरना दे रहे थे। आंदोलन के समर्थन में कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति और प्राथमिक शिक्षक संघ के आह्वान पर जिले भर के शिक्षक, शिक्षामित्र व रसोईये विद्यालयों में तालाबंदी कर धरने में पहुंचे थे।

राज्य मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला और विधायक सुरेन्द्र सिंह भी सोमवार देर शाम धरनास्थल पर पहुंच गए। राज्य मंत्री ने इस मौके पर कहा कि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में कुछ समय से नियमित आ रही समस्याएं उनके संज्ञान में हैं। राज्य मंत्री ने धरनास्थल से ही बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चन्द्र द्विवेदी से दूरभाष पर वार्ता की। बेसिक शिक्षा मंत्री ने आश्वासन दिया कि शिकायतों की जांच कराकर दोषी पाये जाने पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के विरुद्ध एक सप्ताह के अन्दर कार्रवाई की जाएगी। बेसिक शिक्षा मंत्री की अपील पर धरना स्थगित करने की घोषणा कर दी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button