जब ज्योतिरादित्य सिंधिया को लोगों ने सुनाई खरी खोटी

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया झाड़ू लगाते दिखे तो सोशल मीडिया पर धमाल मच गया। वीडियो वायरल हुआ तो कमेंट पर कमेंट आने लगे। किसी ने उन्हें बुरा भला कहकर नसीहत दे डाली तो किसी ने प्रियंका गांधी के झाड़ू लगाने पर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ की टिप्पणी को याद दिलाया।सुनील देहरिया ने लिखा कि नहीं सर ये नया अंदाज नहीं हैं। साफ सड़क मे क्या सफाई कर रहे हैं। कचरे के ढेर मे सफाई करें तब कहेंगे नया अंदाज हैं। एक यहीं अकेले नहीं बल्कि सारे बीआईपी लोग करेंगे तो अच्छा होता। बृजेंद्र सिंह यादव ने लिखा- इनको बोलो यह सब शोभा नहीं देता तुमको। यह सब नरेंद्र मोदी की संगत का असर है। पहले उसने काटा देश का अब ये काट रहे लोगों का अपनी फर्जी एक्टिंग से।

 

एक यूजर की टिप्पणी थी कि जब सारे एयरपोर्ट, एयरलाइंस प्राइवेट हो गए हैं तो बस यही काम बचा है। शुभम वैद्य का कहना था कि एक आदमी झाड़ू लगा रहा है और बाकी वीडियो बना रहे है पर कोई मदद को या हाथ बंटाने सामने नहीं आ रहा है। विजय पाल सिंह ने तंज कसते हुए पूछा प्रियंका जी पर टिप्पणी करने वाले इनके लिए कुछ बोलेंगे?

 

शेर सिंह का सवाल था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से कोई पूछो तो सही सिंधिया जी ने झाड़ू लगाया है अब इनकी जगह कहां है। एक यूजर का कहना था कि मंत्रालय में तो न जहाज है न एयरपोर्ट अब खाली ही हैं। महाराज थे आज निराशा हुई देख कर। एक और ने उन पर कटाक्ष करते हुए कहा-गद्दार तो गद्दार ही रहेगा, जय हो झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की।

बृजेंद्र झा ने तंज कसा कि जो ईमान बेचकर उड़ान भरा था, वो आज विमान बेचकर झाड़ू उठा लिया, अब “झाड़ू”बेचकर क्या करोगे महाराज? जहां कचरा सही मे फैला है उसे साफ़ करना चाहिए इनको। मेरा मतलब भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, भुखमरी, गरीबी से है। एक का कहना था कि झाड़ू तो सभी नेता देते दिख जाते है, शौचालय साफ कर दिखाए तो माने मंत्री जी को। मुझे तो लगता हे की इसी झाड़ू की वजह से दिल्ली में झाड़ू वालों का राज्य है, क्योंकि झाड़ू लगाकर ही बड़े बड़े नेता झाड़ू का प्रचार प्रसार करते हैं। और कोई काम का नही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button