मंडी भाव: सरसों, सोयाबीन, पामोलीन जैसे खाद्य तेलों में आई गिरावट

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : आयात शुल्क कम किए जाने के बाद आयातित तेलों के भाव घटने से दिल्ली मंडी में सोमवार को सोयाबीन डीगम, सीपीओ, पामोलीन जैसे आयातित तेलों के अलावा बाकी तेल- तिलहनों के भाव भी गिरावट का रुख प्रदर्शित करते बंद हुए। बाजार सूत्रों ने कहा कि आयात शुल्क में कमी किए जाने के बाद डीगम और सीपीओ जैसे आयातित तेल बाजार में सस्ते हुए हैं।

इसी कारण मूल्य में गिरावट दिख रही है। उन्होंने कहा कि जिस अनुपात में आयात शुल्क में कमी की गई है, उस अनुपात में खुदरा भाव कम नहीं किए जा रहे और विशेषकर बड़ी तेल कंपनियां इसका फायदा उठा रही हैं। सरकार भी इस बात को लेकर चिंतित है कि आयात शुल्क में कटौती किए जाने का लाभ किस तरह से उपभोक्ताओं को पहुंचाया जाए।

 

सूत्रों ने कहा कि उपभोक्ताओं को पामोलीन सही भाव मिल रहा है लेकिन सूरजमुखी, सोयाबीन और मूंगफली तेल की जो दरें समाचार माध्यमों में दर्शायी जा रही हैं, उनका वास्तविकता से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि मूंगफली का भाव लगभग 200 रुपये लीटर, सोयाबीन रिफाइंड 155 रुपये लीटर और सूरजमुखी तेल का भाव 168-70 रुप़ये लीटर बताया जा रहा है। उन्होंने मूंगफली तेल का उदाहरण देते हुए तर्क दिया कि मूंगफली की नयी फसल मंडियों में आ रही है और इसके हाजिर भाव टूटे हुए हैं लेकिन फिर मूंगफली तेल के भाव को हाजिर भाव से इतना अधिक कैसे बताया जा रहा हैं?

 

सूत्रों ने कहा कि वास्तव में सारे खर्च और देनदारी के बाद भी सोयाबीन तेल अधिकतम 135-140 रुपये के दायरे में होना चाहिये। इसी प्रकार सूरजमुखी तेल अधिकतम 135-140 रुपये लीटर और मूंगफली तेल अधिकतम 150-160 रुपये लीटर पड़ना चाहिए, लेकिन बड़ी तेल कंपनियां कटौती का महत्तम लाभ उपभोक्ताओं तक नहीं पहुंचा पा रही हैं। सूत्रों ने कहा कि सरकार को अधिक भाव पर बिक्री कर अनुचित लाभ कमाने वालों की निगरानी रखनी होगी।

बड़ी कंपनियों ने 177.50 रुपये किलो पक्की घानी तेल खरीदा

उन्होंने कहा कि सरसों में मांग कमजोर है और यह गरीब उपभोक्ताओं की पहुंच से यह दूर हो रहा है। इसके मुकाबले आयातित सोयाबीन रिफाइंड और सीपीओ उनके लिए सस्ता बैठता है जिसकी ओर इन उपभोक्ताओं का रुख होता जा रहा है। सरसों का स्टॉक नहीं होने से इसकी लगभग 70-75 प्रतिशत तेल मिलें बंद हो गयी हैं। मुंबई की बड़ी कंपनियों ने हरियाणा से 177.50 रुपये किलो (अधिभार सहित) पक्की घानी तेल खरीदा है। उन्होंने कहा कि इस बार सरसों की उपलब्धता कम होने से सरसों खली की मांग है जो आगे और बढ़ने की उम्मीद है।

बाजार में थोक भाव इस प्रकार रहे- (भाव- रुपये प्रति क्विंटल)

सरसों तिलहन – 8,845 – 8,875 (42 प्रतिशत कंडीशन का भाव) रुपये।
मूंगफली – 6,200 – 6,285 रुपये।
मूंगफली तेल मिल डिलिवरी (गुजरात)- 14,050 रुपये।
मूंगफली साल्वेंट रिफाइंड तेल 2,060 – 2,185 रुपये प्रति टिन।
सरसों तेल दादरी- 17,900 रुपये प्रति क्विंटल।
सरसों पक्की घानी- 2,690 -2,730 रुपये प्रति टिन।
सरसों कच्ची घानी- 2,765 – 2,875 रुपये प्रति टिन।
तिल तेल मिल डिलिवरी – 15,500 – 18,000 रुपये।
सोयाबीन तेल मिल डिलिवरी दिल्ली- 14,000 रुपये।
सोयाबीन मिल डिलिवरी इंदौर- 13,550 रुपये।
सोयाबीन तेल डीगम, कांडला- 12,500
सीपीओ एक्स-कांडला- 11,450 रुपये।
बिनौला मिल डिलिवरी (हरियाणा)- 13,950 रुपये।
पामोलिन आरबीडी, दिल्ली- 13,000 रुपये।
पामोलिन एक्स- कांडला- 11,800 (बिना जीएसटी के)।
सोयाबीन दाना 5,000 – 5,300, सोयाबीन लूज 4,850 – 4,950 रुपये।
मक्का खल (सरिस्का) 3,825 रुपये।

इंदौर में मसूर, तुअर, मूंग के भाव में कमी

स्थानीय संयोगितागंज अनाज मंडी में सोमवार को मसूर 100 रुपये, तुअर (अरहर) 100 रुपये और मूंग के भाव में 100 रुपये प्रति क्विंटल की कमी शनिवार की तुलना में हुई। आज तुअर की दाल 100 रुपये प्रति क्विंटल सस्ती बिकी।

दलहन

चना (कांटा) 5100 से 5125,
मसूर 7200 से 7250,
तुअर (अरहर) निमाड़ी 5300 से 6100, तुअर सफेद (महाराष्ट्र) 6300 से 6400, तुअर (कर्नाटक) 6500 से 6700,
मूंग 6900 से 7200, मूंग हल्की 6100 से 6500,
उड़द 7000 से 7400, उड़द नया 5500 से 6500, उड़द हल्की 2500 से 4500 रुपये प्रति क्विंटल।

दाल

तुअर (अरहर) दाल सवा नंबर 8500 से 8600,
तुअर दाल फूल 8700 से 8900,
तुअर दाल बोल्ड 9000 से 9400,
आयातित तुअर दाल 8300 से 8400,
चना दाल 6050 से 6650,
मसूर दाल 8350 से 8650,
मूंग दाल 7950 से 8250,
मूंग मोगर 8600 से 8900,
उड़द दाल 9300 से 9600,
उड़द मोगर 9800 से 10300 रुपये प्रति क्विंटल।

चावल

बासमती (921) 9000 से 9500,
तिबार 7500 से 8000,
दुबार 7000 से 7500,
मिनी दुबार 6000 से 6500,
मोगरा 4000 से 6000,
बासमती सैला 6000 से 7500,
कालीमूंछ 6800 से 7000
राजभोग 5800 से 6000,
दूबराज 3500 से 4000,
परमल 2500 से 2650,
हंसा सैला 2450 से 2650,
हंसा सफेद 2200 से 2400,
पोहा 3400 से 3900 रुपये प्रति क्विंटल।
इंदौर में सोयाबीन रिफाइंड के भाव कमी

खाद्य तेल बाजार में सोमवार को सोयाबीन रिफाइंड के भाव में 10 रुपये प्रति 10 किलोग्राम की कमी शनिवार की तुलना में हुई। आज सरसों 200 रुपये प्रति क्विंटल महंगी बिकी।

तिलहन

सरसों (निमाड़ी) 7800 से 8000 रुपये प्रति क्विंटल।

तेल

मूंगफली तेल इंदौर 1460 से 1480,
सोयाबीन रिफाइंड इंदौर 1285 से 1290,
सोयाबीन साल्वेंट 1235 से 1240,
पाम तेल 1280 से 1285 रुपये प्रति 10 किलोग्राम।

कपास्या खली

कपास्या खली इंदौर 1950,
कपास्या खली देवास 1950,
कपास्या खली उज्जैन 1950,
कपास्या खली खंडवा 1900,
कपास्या खली बुरहानपुर 1900 रुपये प्रति 60 किलोग्राम बोरी।
कपास्या खली अकोला 2550 रुपये प्रति क्विंटल।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button