केंद्र सरकार ने त्यौहारी सीजन में कोरोना को काबू में रखने के लिए शुरू किया अभियान

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : नवरात्र, दशहरा और दीपावली जैसे त्यौहारों को देखते हुए केंद्र सरकार (Central Govt) ने कोरोना संक्रमण (Coronavirus) पर काबू रखने के लिए मिशन 100 दिन अभियान शुरू किया है। मामले से जुड़े लोगों के हवाले से HT ने यह जानकारी दी है।

केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक देश में 2,30,971 कोविड-19 केस हैं। वहीं 9 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के 34 जिलों में कोरोना संक्रमण की साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट कम से कम 10 फीसदी के आसपास है। WHO के मुताबिक 5 प्रतिशत से कम की पॉजिटिविटी रेट बताती है कि संक्रमण उक्त इलाके में कंट्रोल में है।आशंका इस बात की है कि अक्टूबर से शुरू होने वाला तीन महीने का त्यौहारी सीजन कोरोना संक्रमण में इजाफे का कारण बन सकता है।

 

नाम न बताने की शर्त पर केंद्र सरकार के एक अधिकारी ने कहा, ‘ये साल कोविड सेफ त्यौहारों का होना चाहिए जिसका मतलब है कि लोगों को संक्रमण रोकने के लिए त्यौहारों का आयोजन ऑनलाइन ही करना चाहिए। हम राज्यों से ज्यादा सतर्क रहने को कह रहे हैं, ताकि अगले 100 दिन कोविड व्यवहार का पालन सुनिश्चित किया जा सके। तभी इस देश को कोरोना की एक और लहर से सुरक्षित रख पाएंगे।

 

अधिकारी ने कहा, ‘भीड़ में खुद के सुरक्षित होने की भावना व्याप्त हो गई है। इसलिए और बहुत जरूरी है कि लोगों को सतर्क रहने के बारे में बताया जाए. कोरोना संक्रमण रोकने के लिए हम जो कर रहे हैं, उसे और लगन के साथ करने की जरूरत है। साथ ही अभी के लिए मानकों और उपायों को और बेहतर करने की जरूरत है।

 

‘जलसे और जुलूस का आयोजन हो प्रतीकात्मक’- बता दें कि केंद्र सरकार ने जिन राज्यों में 5 फीसदी से ज्यादा की पॉजिटिविटी रेट हैं, उनसे कंटेनमेंट जोन में बड़े पैमाने पर भीड़ इकट्ठा न होने देने को कहा है. अगर किसी जिले में भीड़ की अनुमति दी जाती है, तो इसके लिए पूरी परमिशन की आवश्यकता होगी और कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों की संख्या भी निश्चित होगी. गाइडलाइन के मुताबिक शारीरिक और व्यक्तिगत मीटिंग को बढ़ावा नहीं दिया जाएगा। दर्शन और वर्चुअल सेलेब्रेशन को प्रोत्साहित किया जाएगा। पुतला दहन, पंडाल भ्रमण, डांडिया और गरबा का आयोजन प्रतीकात्मक होना चाहिए।

 

‘5 राज्यों में 5 फीसदी साप्ताहिक संक्रमण दर’- देश के 12 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के 28 जिलों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 5 से 10 प्रतिशत है। मिजोरम, केरल, सिक्किम, मणिपुर और मेघालय में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट कम से कम 5 फीसदी के आसपास है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने गुरुवार को लोगों से ज्यादा सतर्क रहने को कहा था, उन्होंने कहा कि त्यौहारी सीजन में ज्यादा सतर्क रहें, क्योंकि संक्रमण का अभी खत्म नहीं हुआ है।

 

‘भीड़ में जाने से बचें, गैर-जरूरी यात्राएं ना करें’- स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, ‘मौजूदा स्थिति को हम हल्के में नहीं ले सकते। हमें याद रखना होगा कि कोरोना संक्रमण जनित महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। अगर सतर्क नहीं रहेंगे तो ये और विकराल हो सकती है। लोगों को भीड़ में जाने से बचना चाहिए और अनावश्यक यात्राएं भी नहीं करनी चाहिए। जितना संभव हो घर पर रहें और त्यौहारी के दौरान ऑनलाइन शॉपिंग करें।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button