Breaking News

द्रमुक के अध्यक्ष एम के स्टालिन ने राहुल गांधी को देश का अगला PM बनाने का रखा प्रस्ताव

अगले साल लोकसभा चुनाव 2019 होने जा रहे हैं। इस बीच विपक्ष से पीएम पद के नामों की चर्चा फिर से गरम हो गई है। यशवंत सिन्हा ने पहले ही ममता को पीएम पद का दावेदार घोषित कर दिया है तो वहीं दूसरी तरफ द्रमुक के अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को देश का अगला प्रधानमंत्री बनाने का प्रस्ताव रखा है।

एम के स्टालिन ने कहा कि गांधी में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को परास्त करने की क्षमता है। स्टालिन यहां पार्टी मुख्यालय अन्ना अरिवालयम में द्रमुक नेता तथा अपने पिता दिवंगत एम करुणानिधि की कांस्य प्रतिमा के अनवारण के बाद एक रैली को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि 2018 में थलैवार कलईग्नार की प्रतिमा के अनावरण के अवसर मैं प्रस्ताव रखता हूं कि हम दिल्ली में नया प्रधानमंत्री बनाएंगे। हम नया भारत बनाएंगे। मैं तमिलनाडु की ओर से राहुल गांधी की उम्मीदवारी की पेशकश करता हूं। प्रतिमा अनावरण के अवसर पर द्रमुक के साथ ही मुख्य विपक्षी दलों कांग्रेस, तेदेपा और माकपा के नेता शामिल हुए।

स्टालिन ने कहा कि उनका यह प्रस्ताव द्रमुक की उसी परंपरा का हिस्सा है जब उनके पिता दिवंगत एम करूणानिधि ने नेतृत्व की कमान संभालने के लिए इंदिरा गांधी और सोनिया गांधी का समर्थन किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए द्रमुक अध्यक्ष ने कहा कि राहुल में मोदी सरकार को परास्त करने की क्षमता है। उन्होंने मंच पर बैठे तेदेपा अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू और माकपा नेता पी विजयन से भी राहुल गांधी के हाथ मजबूत करने की अपील की।

स्टालिन ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने देश को 15 साल पीछे कर दिया है। अगर पांच साल और उन्हें सत्ता मिल गयी तो देश और 50 साल पीछे चला जाएगा। भाजपा की अगुवाई वाले राजग से संबंध तोड़ने के बाद से ही नायडू अगले संसदीय चुनाव के लिए भाजपा विरोधी एक महागठबंधन बनाने के प्रयासों में लगे हैं। स्टालिन ने बीते समय को याद करते हुए कहा कि दिवंगत इंदिरा गांधी के प्रति समर्थन जाहिर करते हुए करूणानिधि ने 1980 में ऐलान किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *