दो लाख नहीं देने पर पति ने दिया पत्नी को तीन तलाक

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : लखनऊ के हसनगंज कोतवाली में महिला ने दो लाख की मांग पूरी नहीं होने पर तीन तलाक दिए जाने का मुकदमा दर्ज कराया है। तलाक देने के साथ ही आरोपी पति ने बेटी को भी अपने घर में रख लिया है। जिसे मां से मिलने नहीं दिया जा रहा है।

शिवपुरम निवासी महिला की शादी 15 साल पूर्व कमरुद्दीन से हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही महिला को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था। परिवार बचाने के लिए वह सब कुछ सहती रही। लेकिन ससुराल वालों के व्यवहार में परिवर्तन नहीं हुआ। शादी के सात साल बाद बेटी हुई थी। इसके बाद भी महिला को पति कमरुद्दीन और उसका परिवार प्रताड़ित करते रहे।

पीड़िता के अनुसार पति उससे दो लाख रुपये मायके से लाने के लिए कह रहा था। लेकिन महिला की विधवा मां इतने रुपये नहीं दे सकती थी। इसलिए महिला ने पति को मना कर दिया था। इस बात से नाराज होकर कमरुद्दीन ने 30 मई को पत्नी के साथ मारपीट की थी। फिर जबरन उसे मायके छोड़ आया था।

पीड़िता के अनुसार मायके छोड़ने का विरोध किए जाने पर कमरुद्दीन ने तीन बार तलाक बोल दिया था। पति के यह शब्द सुन कर महिला परेशान हो गई थी। कमरुद्दीन ने आठ वर्षीय बेटी को भी अपने साथ रख लिया है। महिला से उसे मिलने नहीं दिया जाता है। इस बीच महिला के परिवार ने कमरुद्दीन को समझाने का काफी प्रयास किया था। जो बेनतीजा रहा।

सारे प्रयास विफल होने पर महिला ने हसनगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर दी थी। लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं की गई। पुलिस से मदद नहीं मिलने पर पीड़िता ने कोर्ट में अर्जी दायर की थी। अदालत का आदेश मिलने के बाद हसनगंज कोतवाली में कमरुद्दीन, सास आबिदा, देवर रियाजुद्दीन और ननद साबिया के खिलाफ दहेज प्रताड़ना, मारपीट, धमकी देने के साथ ही मुस्लिम महिला विवाह पर अधिकार की सुरक्षा अधिनियम 2019 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button