नरेंद्र गिरि की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी सीबीआई, सवा सौ लोगों की तैयार की सूची

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी सीबीआई ने करीब सवा सौ लोगों की सूची तैयार की है। इसमें बाघंबरी मठ के तमाम लोगों के अलावा महंत नरेंद्र गिरि और आनंद गिरि के करीबियों के भी नाम हैं।

पुलिस ने अपनी तीन दिनों की जांच में जो रिपोर्ट तैयार कर सीबीआई को सौंपी है, उस आधार पर भी तमाम लोगों के नाम पूछताछ के लिए सूची में डाले गए हैं। दोनों के मोबाइल की कॉल डिटेल और मठ के साधु-संतों और कर्मचारियों से पूछताछ के बाद सीबीआई ने फिलहाल इतने नामों को छांटा है। इसमें आद्या तिवारी, उसके बेटे संदीप तिवारी के करीबी और उनके मोबाइल से मिले संदिग्ध नंबर वालों को भी शामिल किया गया है।

 

सीबीआई अधिकारियों की एक टीम इस सूची के आधार पर पूछताछ में जुटी है। हालांकि सूची वाले नामों में कुछ लोगों से सीबीआई का संपर्क नहीं हो पा रहा है। इस सूची में एक पूर्व मंत्री, भाजपा और दूसरे दलों से जुड़े कई नेता, पुलिस अधिकारियों आदि के नाम हैं। सूची में तमाम ऐसे लोगों के नाम हैं जो प्रयागराज के बजाय दूसरे शहरों में रहते हैं। अब बार-बारी सीबीआई उनसे संपर्क कर बुलाने की कोशिश कर रही है।

 

कई संदिग्ध नंबरों को सर्विलांस पर भी डाला गया है। ये ऐसे लोग हैं जिनके बारे में सीबीआई गोपनीय स्तर पर जानकारी जुटा रही है। उनकी पुरानी और नई लोकेशन की पड़ताल हो रही है। सूची में प्रयागराज के कई बिल्डर और प्रापर्टी डीलरों के नाम हैं। मठ बाघंबरी के करीब फ्लैट बनाने वालों से भी पूछताछ की तैयारी है।

 

महंत नरेंद्र गिरि की षोड्शी पांच अक्तूबर को होगी। इसको लेकर मठ में अब तैयारी तेज कर दी गई है। इस दौरान देशभर से निरंजनी अखाड़े के सात हजार से अधिक साधु संत प्रयागराज आएंगे। वहीं सभी 13 अखाड़ों के महंत और महामंडलेश्वरों को भी न्योता दिया जा रहा है। पांच अक्टूबर को होने वाली षोड्शी के लिए निमंत्रण पत्र शुक्रवार को छप कर आ जाएंगे और बुलावा भेजने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

 

षोड्शी समारोह में महंत नरेंद्र गिरि की पसंद के व्यंजन रखे जाएंगे। बताया जा रहा है कि महंत नरेंद्र गिरि अपने जीवन काल में खीर के बहुत शौकीन थे। कैसा भी आयोजन हो तो महंत नरेंद्र गिरि खीर जरूर बनवाते थे। उनकी पसंद की खीर भी सामान्य नहीं होती थी। पके हुए दूध में चावल, अलग-अलग प्रकार के मेवे और खोवा डाला जाएगा।ट

 

निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रविंद्र पुरी ने बताया कि महंत नरेंद्र गिरि की षोड्शी में खीर को विशेषतौर पर बनवाया जाएगा। इसके साथ ही दूसरे व्यंजन जो महंत नरेंद्र गिरि को पसंद थे रखे जाएंगे। इसके अलावा महंत नरेंद्र गिरि को अचार बहुत पसंद था। खुद ही कई प्रकार के अचार बनाने के शौकीन थे। देशभर के संत जब षोड्शी समारोह में जुटेंगे तो व्यंजनों का खास ख्याल रखा जाएगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button