11 अक्टूबर के बाद तय होगा अखिलेश और शिवपाल का भविष्य

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मंगलवार को इटावा में कहा कि हमने सपा के गठबंधन के सारे प्रयास कर लिए। हमें अभी तक समाजवादी पार्टी की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला है। हमें अभी अखिलेश यादव के जवाब का इंतजार है।

शिवपाल यादव ने कहा कि वैसे हमें 11 अक्टूबर तक जवाब का इंतजार रहेगा। इसके बाद हम अपना फैसलाा ले लेंगे वैसे अगर जवाब नहीं आया तो हमारी पार्टी उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा से चुनाव लड़ेगी। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा राज में किसान और बुनकर तबाह हैं। पहले किसानों के मान को गिराना फिर नाम भर के लिए दाम बढ़ा देना, भाजपा का ये चुनावी हथकंडा अब यूपी में चलने वाला नहीं है।

 

झूठ और नफरत के सहारे भटकाने-बहकाने वाली भाजपा की चालाकी से जनता को सजग कराने के लिए सपाई घर-घर जाएंगे। भाजपा का अन्याय अब बर्दाश्त नहीं होगा। अखिलेश ने जारी बयान में कहा कि किसानों के पैदा किए गए कपास और बुनकरों द्वारा बनाए गए कपड़े से भारत की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। भाजपा के कारण दोनों वर्ग संकट में हैं। सरकार की नीतियों ने व्यापार को चौपट कर दिया है।

 

महंगाई और भ्रष्टाचार से समाज का हर वर्ग परेशान है। नौजवान का भविष्य अंधकारमय है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने संकल्प-पत्र के वादों को भुलाकर जनता के साथ छल किया है। किसान को एमएसपी नहीं मिली। किसान तीन काले कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर 10 महीने से धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। भाजपा सरकार उनकी सुन नहीं रही है। भाजपा जाते-जाते गन्ना किसानों के बकाए का ब्याज न सही मूल ही चुका दे तो बड़ी बात होगी।

 

ब्याज अदायगी की बात तो अब भाजपा नेता भूलकर भी नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि देश के अन्नदाता का सम्मान न करने वाली दम्भी भाजपा सत्ता में बने रहने का नैतिक अधिकार खो चुकी है। किसान आंदोलन भाजपा के अंदर टूटन का कारण बनने लगा है। छह माह बाद समाजवादी सरकार बनते ही राज्य की पीड़ित जनता के साथ कोई अन्याय नहीं कर सकेगा? सन् 2022 में समाजवादी सरकार किसानों का सच्चा मान बढ़ाएगी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button