भारत बंद के बीच सिंघु बॉर्डर पर किसान की मौत, पोस्ट मॉर्टम के बाद ही पता चलेगा कारण

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : किसानों के भारत बंद के दौरान दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर पर एक किसान की मौत हो गई है। हालांकि, दिल्ली पुलिस का कहना है कि किसान की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है। पुलिस ने कहा है कि किसान की मौत का असली कारण पोस्ट मॉर्टम के बाद ही पता लगेगा। केंद्र सरकार के लाए तीन कृषि कानूनों के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा की अगुवाई में देशभर के 40 से ज्यादा किसान संगठनों ने आज भारत बंद किया हुआ है।

किसान संगठनों ने सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक के लिए भारत बंद अभियान चलाया है, जिसके तहत सभी सरकारी और निजी दफ्तरों, संस्थानों, दुकानों और उद्योगों को बंद रखने की अपील की गई है। हालांकि, किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सभी जरूरी सेवाएं जैसे अस्पताल, मेडिकल स्टोर आदि अपना काम जारी रख सकते हैं। भारत बंद की वजह से जगह-जगह भयंकर ट्रैफिक जाम की स्थिति बन गई है।

गुरुग्राम-दिल्ली हाइवे पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया है तो वहीं कई शहरों में ट्रेनें भी थम गई हैं। दिल्ली से उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाला गाजीपुर बॉर्डर किसान आंदोलनकारियों ने जाम कर दिया है। इसके चलते दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने इस रूट पर चलने वाले वाहनों को वैकल्पिक मार्गों से जाने की सलाह दी है। यूपी से गाजीपुर बॉर्डर आ रहे वाहनों को फिलहाल दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ओर से महाराजपुर बॉर्डर, अप्सरा बॉर्डर और भोपुरा बॉर्डर से गुजरने की सलाह दी गई है। किसानों ने भारत बंद के तहत सोमवार को सुबह 6 बजे से ही दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे की ऊपर वाली लेन को जाम कर दिया था।

किसानों के भारत बंद को कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, बीएसपी, एसपी, वाईएसआर कांग्रेस, लेफ्ट पार्टियों सहित कई राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है।

संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी कर यह दावा किया है कि उनके बुलाए भारत बंद को अभूतपूर्व समर्थन मिला है। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा है कि पंजाब, हरियाणा, केरल, बिहार में पूरी तरह बंद है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button