मौसम विभाग का अलर्ट जारी, यूपी के इन जिलों में तीन दिनों तक हो सकती है भारी बारिश


स्टार एक्सप्रेस डिजिटल

लखनऊ :  गोरखपुर सहित पूर्वी यूपी के कई जिलों में आज सुबह से हो रही मूसलाधार बारशि से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लखनऊ और आसपास के जिलों में गुरुवार तड़के से तेज हवाओं के साथ शुरु हुई देर शाम तक जारी रह सकती है।
मौसम विभाग का कहना है कि इन जिलों में अगले तीन दिन भारी बारिश की संभावना हैं। उनमें करीब दस जिलों में 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। आकाशीय बिजली के साथ जोरदार बारिश होगी। यहां रेड अलर्ट जारी हुआ हैए वहीं 26 जिलों में येलो अलर्ट भी जारी किया गया है।

 

 

 

जिन जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी हुआ है उनमें बाराबंकी, लखनऊ, गाजियाबाद, अयोध्या, सुल्तानपुर मथुरा, सीतापुर, संभलए मुरादाबाद, शामली, बुलंदशहर, बिजनौर, सहारनपुर, अमरोहा, मुजफ्फरनगर, शाहजहांपुर, बागपत, हापुड़, मेरठ, इटावा, हमीरपुर, बलिया, जालौन, औरैया, ललितपुर व फर्रुखाबाद शामिल हैं। कानपुर नगर, कन्नौज, गौतम बुद्ध नगर, फतेहपुर, कानपुर देहात, हरदोई, उन्नाव, अलीगढ़ व बांदा जैसे जिलों में रेड अलर्ट जारी हुआ है।

 

 

 

बारिश के कारण लखनऊ में विधानभवन के आसपास के इलाके दरिया बन गये। पार्क रोड़ विधायक निवास, सिविल अस्पताल परिसर के अलावा कुछ मंत्री आवासों में भी पानी भरा है। बारिश के कारण बच्चे स्कूल नहीं जा सके और सरकारी कायार्लयों में हाजिरी कम रही। लखनऊ में निचले इलाको में कई फुट पानी जमा है। बारिश के कारण अनके वाहन खराब हो गये हैं। लखनऊ में सभी नाले भी उफान पर हैं। बारिश के कारण लोग घरो में ही दुबके हैं। सड़कों पर कुछ वाहन ही नजर आ रहे हैं।

 

 

 

 

रात से हो रही मूसलाधार बारिश और तेज हवाओं के कारण दरियाबाद रुदौली स्टेशन के बीच दो स्थानों पर 4 पेड़ रेल ट्रैक पर गिर गए। जिससे रेल ट्रैक पर यातायात ठप हो गया। इस दौरान साबरमतीए सद्भावना सहित पांच एक्सप्रेस ट्रेनें 3 से 4 घंटे प्रभावित रही। रेल पथ के अधिकारियों ने मशक्कत के बाद गिरे पेड़ों को ट्रैक से हटवाया। जिसके बाद यातायात बहाल हो सका।

 

 

 

 

बुधवार की देर रात्रि लगातार मूसलाधार बारिश के साथ तेज़ हवा बह रही है। जिसके कारण गुरुवार की भोर बाराबंकी रुदौली रेलखंड पर किलोमीटर संख्या 10 18 के पास पोल संख्या 1-2 और 6-7 के बीच चार पेड़ रेल पटरी पर गिर गए। इसकी जानकारी रेलवे के अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए।

 

 

 

 

रेल पटरी पर पेड़ों के गिरने की जानकारी होते ही भोर 3:00 बजे रेल पथ के दर्जनों अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंच गए। जेसीबी और कटर मशीन की सहायता से करीब 4 घंटे की मशक्कत के बाद रेल ट्रैक को साफ किया गया। ट्रैक पूरी तरीके से सुरक्षित था। प्रभावित हुई पांच एक्सप्रेस ट्रेनेरू दरियाबाद व रुदौली रेलखंड के बीच पेड़ों के गिरने की सूचना के इस रूट से गुजरने वाली ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोका गया था। इस दौरान साबरमती एक्सप्रेसए सद्भावना एक्सप्रेस करीब 3 से 4 घंटे प्रभावित रही। इसके साथ ही अमृतसर जयनगर एक्सप्रेस, बरेली वाराणसी एक्सप्रेस और दून एक्सप्रेस को भी बाराबंकी सफेदाबाद लखनऊ आदि स्टेशनों पर खड़ा किया गया था। इन ट्रेनों का संचालन भी करीब 3 घंटे तक प्रभावित रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button