डायबिटीज से रहना हो दूर तो करें ये योगासन, सेहत को मिलेंगे चमत्कारी लाभ

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसमें आपके ब्लड शुगर लेवल बहुत ज्यादा होता है। समय के साथ, आपके ब्लड में बहुत अधिक ग्लूकोज होने से गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। इसके चलते आपकी आंखों, किडनी और नसों को नुकसान पहुंचता है। डायबिटीज भी कुछ मामलों में दिल रोग, स्ट्रोक का कारण बनता है। प्रेग्नेंट महिलाओं को भी डायबिटीज हो सकता है, इस स्थिति को गर्भकालीन डायबिटीज कहा जाता है।

 

 

 

डायबिटीज से बचने के लिए अपने लाइफस्टाइल में बदलाव करने की जरूरत होती है। विशेषज्ञों की माने तो तनाव भी डायबिटीज होने का कारण बनता है। योग जैसे अभ्यास मन को शांति देते हैं और शरीर में एनर्जी उतपन्न करते हैं। कुछ ऐसे आसान हैं जिनका रोजाना अभ्यास करने से आप स्वस्थ जीवन बिता सकते हैं।

 

 

 

1) धनुरासन – इसे बो पोज भी कहते हैं, इसे करना एब्स के लिए काफी मुश्किल भरा होता है। लेकिन इसे करने से एब्स को मजबूत बनाने में मदद मिलती है। इसे करने के लिए पेट के बल पर जमीन पर लेट जाएं। अपने घुटनों को मोड़ें और अपने पैरों तो अपमे हाथों से पकड़ें। फिर सांस भरते हुए अपने दोनों हाथों और पैरों को जांघ और छाती के साथ हवा में उठाएं। इस मुद्रा को 30 सेकेंड तक होल्ड करें। धीरे धीरे इसे बढ़ाएं। सांस छोड़ते हुए वापस पहले की स्थिति में आएं।

 

 

 

 

2) हलासन – जमीन पर लेट कर अपने दोनों पैरों को नीचे से उठाकर अपने सिर के पीछे की तरफ ले जाना है। साथ ही यहां कुछ समय बिताने के लिए रुकना भी है। ऐसा करने से आपको एसिडिटी में राहत दिलाने का काम भी करता है।

 

 

 

3) मंडूकासन – वज्रासन में बैठें और अपनी मुठ्ठी बांधकर अपनी नाभि के पास लेकर आएं। मुठ्ठी को नाभि और जांघ के पास खड़ी करके रखें, ध्यान दें की ये करते समय उंगलियां आपके पेट की ओर हो। गहरी सांस लें और छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें और छाती को जांघों पर टिकाने की कोशिश करें। झुकते समय नाभी पर ज्यादा से ज्यादा दाबाव आए। सिर और गर्दन सीधी रखें और धीरे-धीरे सांस ले और छोड़े। अब आराम से अपनी सामान्य स्थिति में वापस जाएं। शुरू में इस 4-5 बार ही करें।

 

 

 

 

4) पश्चिमोत्तानासन – पैरों को बाहर की ओर फैलाते हुए जमीन पर बैठें। पैर की उंगलियों को आगे की ओर एक साथ रखें। सांस लें और हाथों को ऊपर उठाएं।जहां तक संभव हो शरीर को आगे की ओर झुकाने के लिए झुकें और सांस छोड़ें। दोनों हाथों को पैरों के तलवे को और नाक से घुटना छुने की कोशिश करें।

 

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button