Breaking News

केएल राहुल पर्थ में हुए दो रन पर बोल्ड

टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे की टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट में एक बार फिर टीम इंडिया का टॉप ऑर्डर फेल हो गया. पहले मुरली विजय शून्य पर बोल्ड हुए और उसके दो ओवर बाद केएल राहुल भी केवल 2 रन बनाकर बोल्ड हो गए. केएल राहुल को हेजलवुड ने छठे ओवर की पहली गेंद पर आउट किया. इससे टीम इंडिया का स्कोर 2 विकेट पर ही 8 रन हो गया.

केएल इससे पहले एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में भी केवल दो रन ही बनाकर आउट हुए थे. यहां भी उन्हें हेजलवुड ने ही आउट किया. उस पारी में राहुल एरोन फिंच को कैच देकर आउट हुए थे. एडिलेड की दूसरी पारी में जरूर केएल ने 44 रनों की बढ़िया पारी जरूर खेली जिसमें वे हेजलवुड की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए. केएल की अनियमितता टीम इंडिया की परेशानी का सबब बनता जा रहा है.

रिकॉर्ड भी कह रहे हैं यही बात
​इस साल केएल राहुल ने 9 टेस्ट मैचों की 17 पारियों में एक शतक के साथ, 22.17 के औसत से 377 रन बनाए हैं. वहीं करियर के 33 मैचों की 54 पारियों में, 36.46 के औसत से 1896 रन बनाए हैं, लेकिन इसमें 5 सेंचुरी और 11 हाफ सेंचुरी शामिल हैं. उनका पूरा रिकॉर्ड भी उनकी अनियमितता के बारे में साफ कहानी कह रहा है वरना वे काफी होनहार और उम्मीद जगाने वाले खिलाड़ी दिखते हैं.

मुरली भी हुए शू्न्य पर बोल्ड इसी पारी में
जब टीम इंडिया की पहली पारी शुरू हुई तो तीसरे ओवर में ही मुरली विजय बिना खाता खोले ही मिचेल स्टार्क की गेंद पर बोल्ड हो गए. केएल राहुल की तरह मुरली विजय एडिलेड टेस्ट में खास नहीं चले थे पहली पारी में उन्होंने 11 और दूसरी पारी में उन्होंने 58 गेंदों पर 18 रनों की पारी खेली थी. यहां भी दोनों ही पारियों में वे मिचेल स्टार्क की गेंद पर आउट हुए थे. हालाकि एडिलेड में वे किसी भी पारी मे बोल्ड नहीं हुए थे. पर्थ में तो वे शून्य पर बोल्ड हुए.

ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 326 रन पर सिमटी
ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 326 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया. ऑस्ट्रेलिया ने दिन की शुरुआत छह विकेट के नुकसान पर 277 रनों के साथ की. टिम पेन (38) और पैट कमिंस (19) ने संयम से बल्लेबाजी की. हालांकि वह ज्यादा देर टिक नहीं पाए और पवेलियन लौट लिए. इन दोनों ने सातवें विकेट के लिए 59 रनों की साझेदारी कर ऑस्ट्रेलिया को 300 से पहले सिमटने से बचाया. भारत के लिए ईशांत शर्मा ने चार विकेट लिए. जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव और हनुमा विहारी को दो-दो सफलताएं मिलीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *