Breaking News

दूसरे टेस्ट मैच में पहले दिन टीम इंडिया के गेंदबाजों के ऑस्ट्रेलिया के विकेट गिराने में दिक्कतें

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पर्थ में चल रहे टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में पहले दिन टीम इंडिया के गेंदबाजों के ऑस्ट्रेलिया के विकेट गिराने में दिक्कतें आईं. हालाकि पहले सत्र में एक भी विकेट नहीं गिरने के बाद टीम इंडिया ने दूसरे सत्र में वापसी की और तीन विकेट गिरा दिए, लेकिन तीसरे सत्र में वह केवल तीन ही विकेट गिरा सकी और ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन 277 रन बनाने में कामयाबी हासिल कर ली. दूसरे दिन भी टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया पारी को समेटने में 18.3 ओवर लग गए और तब तक ऑस्ट्रेलिया ने 326 रन बनाए. टीम इंडिया की गेंदबाजी पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर ने बयान दिया है.

यह गलती की भारत ने 
बॉर्डर ने कहा कि भारतीय गेंदबाजों ने शुक्रवार को टेस्ट मैच के पहले दिन ”थोड़ी शार्ट पिच गेंदें” फेंककर गलती की जिसका फायदा ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों को होगा. बॉर्डर ने एक वेबसाइट के लिए लिखे कॉलम में कहा, ”बल्लेबाजों के बल्ले के किनारे से निकली गेंदों को देखते हुए भारत का लग रहा होगा कि वे और अच्छा कर सकते थे. उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन मुझे लगता है कि उन्होंने थोड़ी ज्यादा शार्ट पिच गेंद फेंकी.”

ऐसा करना चाहिए था
बॉर्डर ने कहा, ” जिस तरह बहुत सारी गेंद बल्ले के किनारे से गुजर रही थी, उसे देखते हुए आपको फुललेंथ की गेंद फेकनी चाहिये थी. ऐसे में कभी कभी आपकी गेंद पर रन बन सकता है लेकिन बल्ले का किनारा लग कर कैच के मौके भी बनते.” इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा, ”ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी बात यह है कि उनके गेंदबाज ने यह सीख लिया होगा कि इस पिच पर क्या काम करेगा और क्या नहीं.”

इस मैच से पहले पिच के बारे में काफी कुछ कहा जा रहा था. एक ओर जहां पिच पर घास देखकर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली खुश दिखाई दिए, तो वहीं ऑस्ट्रेलिायाई कप्तान ने उम्मीद जताई कि पिच खेल जैसे आगे बढ़ेगा वह टूट सकती है. पेन ने यह भी कहा कि था इस मैच में टॉस गंवाना अच्छा होगा, जबकि उन्होंने ने ही टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. यह मैच पर्थ के वाका स्टेडियम पर ने होकर नए ऑप्टस स्टेडियम पर हो रहा है. इससे पहले इस मैदान पर केवल दो अंतरराष्ट्रीय मैच तो हुए हैं लेकिन टेस्ट मैच पहली बार हो रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *