Breaking News

इस कारण महिला ने बैंक के मैनेजर पर बदतमीजी करने का लगा दिया आरोप

सहारा बैंक की रेलवे रोड स्थित स्थानीय शाखा में बुधवार को हंगामा हो गया। रुपये न मिलने पर उपभोक्ताओं ने बैंक अधिकारियों को खरी-खरी सुनाई। एक महिला ने बैंक के मैनेजर पर बदतमीजी करने का आरोप लगाया तो महिला द्वारा बैंक मैनेजर पर हाथ उठाने की बात भी सामने आई है। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

डेमो फोटो

दरअसल, रेलवे रोड स्थित एक कांप्लेक्स में सहारा बैंक की शाखा चल रही है। बुधवार को कुछ लोग शाखा में आए हुए थे। पॉलिसी पूरी होने पर लोगों ने अधिकारियों से अपनी जमापूंजी की मांग की तो बैंक अधिकारियों/कर्मचारियों ने रुपये न होने की बात कही। इससे लोगों में रोष पनप गया और यहां हंगामा शुरू हो गया। लोगों ने बैंक कर्मियों और अधिकारियों को खूब खरी-खोटी सुनाई। एक महिला की तो बैंक के मैनेजर के साथ सीधी झड़प हो गई। हाथापाई तक की नौबत आ गई। महिला ने बैंक मैनेजर पर बदतमीजी करने का आरोप लगाया और 100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही सिटी थाने से पुलिसकर्मी बैंक में पहुंचे और दोनों पक्षों से पूछताछ शुरू की।

लोग बोले, बार-बार देते हैं तारीख
बैंक में पहुंचे चमनलाल ने कहा कि उसने बैंक में रोजाना रुपये जमा कराने की पॉलिसी ली थी। पॉलिसी पूरी तो हुई लेकिन अब अपने रुपये वापसी के लिए जद्दोजहद करनी पड़ रही है। आजाद, अनुराग, मोनिका, राधेश्याम, मोनिका, पंकज, नरेश, रामभगत आदि ने कहा कि उनकी पॉलिसी हुए काफी समय बीत गया है। जब भी पैसों के लिए आते हैं, तो अगली तारीख दे दी जाती है। पाई-पाई जोड़कर उन्होंने बैंक में रुपये जमा कराए थे, लेकिन अब अपने ही रुपये पाने के लिए परेशानी झेलनी पड़ रही है। बैंक कर्मी हर बार यही कहते हैं कि ऊपर से पैसे नहीं आए, बाद में आना।

झूठे आरोप लगाए जा रहे : मैनेजर
बैंक के मैनेजर धर्मवीर देशवाल के मुताबिक, हमने लोगों को बस यही कहा था कि अभी शाखा में फंड नहीं आया, आएगा तो दे देंगे। इसी बात पर लोगों ने हंगामा कर दिया। उन्होंने महिला के साथ बदतमीजी नहीं कि बल्कि महिला ने ही उन पर हाथ उठाने का प्रयास किया और दबाव बनाने के लिए पुलिस में झूठी शिकायत दे दी। उन पर लगे आरोप बेबुनियाद है, वह किसी भी जांच के लिए तैयार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *