Breaking News

इस मीटिंग में मुख्‍यमंत्री का नाम तय होने के बाद लिए जाएंगे ये फैसले

बाद प्रदेश के मुख्‍यमंत्री के नाम पर निर्णय अभी नहीं हो पाया है सूत्रों के मुताबिक बुधवार को विधायक दल की मीटिंग में CM के नाम के लिए से स्‍वीकार कर लिया गया है हालांकि विधायक दल ने राज्‍य के मुख्‍यमंत्री के नाम का तय करने का निर्णय कांग्रेस पार्टी अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर छोड़ दिया है इसके लिए राहुल गांधी गुरुवार को मध्‍य प्रदेश के नेताओं के साथ अहम मीटिंग दिल्‍ली में करेंगे इसमें कमलनाथ  ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया समेत कई नेता शामिल होंगे

इस मीटिंग में मंत्रिमंडल के नामों को लेकर भी चर्चा होने की आसार है इसी मीटिंग में मुख्‍यमंत्री का नाम तय होने के बाद शपथ ग्रहण का समय भी तय हो जाएगा मीटिंग के बाद कमलनाथ  ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया दोपहर में ही भोपाल लौट जाएंगे बुधवार को हुई मीटिंग में कांग्रेस पार्टी विधायक दल ने मध्य प्रदेश में CM चयन करने का अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को दिया है पार्टी के विधायकों ने बुधवार की शाम को इस आशय का एक पंक्ति का प्रस्ताव पारित किया

प्रदेश कांग्रेस पार्टी मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने बताया, ‘‘पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों ने एक प्रस्ताव पारित कर पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को अधिकार दिया है कि वह CM के नाम पर अंतिम निर्णय करें कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ विधायक आरिफ अकील ने इस आशय का प्रस्ताव विधायकों की मीटिंग में रखा, जिसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया ’’ विधायकों की मीटिंग प्रदेश कांग्रेस पार्टी ऑफिस में लगभग दो घंटे तक चली इसके बाद पार्टी पर्यवेक्षकों के तौर पर यहां आए कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता ए के एंटनी  कुंवर भंवर जितेन्द्र सिंह द्वारा विधायकों से अलग-अलग राय ली जा रही है

ओझा ने बताया कि मीटिंग में कांग्रेस पार्टी को समर्थन दे रहे चार निर्दलीय विधायक भी मौजूद थे प्रदेश कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष कमलनाथ, वरिष्ठ कांग्रेस पार्टी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, दिग्विजय सिंह, अरुण यादव  विवेक तन्खा सहित अन्य नेता भी मीटिंग में मौजूद थे

प्रदेश में 28 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव के बाद बुधवार प्रातः काल मतगणना खत्म होने पर कांग्रेस पार्टी ने 114 विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज की है जो कि बहुमत के आंकड़े 116 से मात्र दो सीटें कम है वहीं प्रदेश में पिछले 15 वर्ष से सत्तारुढ़ दल बीजेपी 109 सीटें हासिल कर दूसरे जगह पर रही प्रदेश में दो सीटों पर बसपा, एक समाजवादी पार्टी  चार सीटों पर निर्दलीयों ने विजय दर्ज की है प्रदेश में कुल 230 विधानसभा सीटें हैं

इससे पहले बुधवार दोपहर को कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया, दिग्विजय सिंह, अरुण यादव  विवेक तन्खा ने गवर्नर आनंदीबेन पटेल से राजभवन में मुलाकात की  प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की गवर्नमेंट बनाने का दावा पेश किया

प्रदेश कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष के तौर पर कमलनाथ ने गवर्नर को सौंपे अपने लेटर में कहा, ‘‘विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी प्रदेश में सबसे बड़े दल के तौर पर सामने आई है  कांग्रेस पार्टी को बहुमत हासिल है बसपा, सपा  निर्दलीय विधायकों ने भी कांग्रेस पार्टी के प्रति समर्थन जाहीर किया है ’’
उन्होंने गवर्नर से आग्रह किया कि कांग्रेस पार्टी को प्रदेश में गवर्नमेंट बनाने का मौका दिया जाए प्रदेश कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने राजभवन के बाहर बताया, ‘‘प्रदेश की 230 सदस्यीय विधानसभा में बीएसपी के दो, सपा का एक  चार निर्दलीय के समर्थन से कांग्रेस पार्टी के पास समर्थन का कुल आंकड़ा 121 विधायकों का है ’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *