Breaking News

लखनऊ : बेरोजगारों से लाखों की ठगी करने वाले फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : लखनऊ में बेरोजगारों से लाखों की ठगी करने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का खुलासा हुआ है। इस कॉल सेंटर के जरिए बेरोजगारों को निशाना बनाया जा रहा था। फर्जी कॉल सेंटर में काम करने वाली लड़कियां लोगों को नौकरी दिलाने के बहाने उनकी बैंक अकाउंट डिटेल निकलवा लेती थीं। रिजस्ट्रेशन के नाम पर उनके खातों से पूरी रकम साफ कर ली जाती थी। इस मामले में पुलिस ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया है।

 

 

 

 

पुलिस की छापेमारी में बेरोजगारों का डाटा मिला है। बताया जा रहा है कि यह डाटा किसी नौकरी दिलाने वाली साइट से चुराया गया है। लखनऊ की अलीगंज पुलिस ने मुखबिर से मिली खबर के बाद छापेमारी कर फर्जी कॉल सेंटर (Raid In Call Center) का पर्दाफाश कर दिया। यह जानकारी ज्वाइंट कमिश्नर क्राइम नीलाब्जा चौधरी ने दी है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर इस फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है।

 

 

 

पुलिस ने छापेमारी कर कॉल सेंटर चलाने वाले अनुज पाल समेत वहां काम करने वाले 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इसमें 9 लडकियां भी शामिल हैं। ये लड़कियां लोगों को अपने झांसे में लेकर जरूरतमंदों की बैंक डिटेल निकलवा लेती थीं। उसके बाद ओटीपी का पता लगाकर उनके अकाउंट से पूरा पैसा साफ कर लिया जाता था। पुलिस इस गिरोह से जुड़े 5 और लोगों का पता लगाने में जुटी हुई है। बताया जा रहा है कि ये गैंग लंबे समय से बेरोजगारों को झांसे में लेकर उनसे ठगी कर रहा था।

 

 

 

 

गिरफ्तार किए गए लोगों में अनुज पाल, अजय कश्यप, रमा सिंह, कोमल सिंह, रुचि तिवारी, जया निगम, पूजा चौरसिया, प्रीति देवी, पल्लवी, सदफ और डॉली शामिल हैं। अलीगंज के इंस्पेक्टर पन्नेलाल यादव ने बताया कि फर्जी कॉल सेंटर अलीगंज पुरनिया पेट्रोल पंप के पास कैलाश प्लाजा में चलाया जा रहा था। पूरा गैंग मिलकर बेरोजगारों को ठगी का शिकार बनाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *