Breaking News

ये 5 राज्यों में चुनावों के सबसे भाग्यशाली उम्मीदवार

चुनाव में वोटिंग के दौरान ही नहीं, बल्कि काउंटिंग में प्रत्येक राउंड के बाद उम्मीदवारों की सांस अटकने लगती है कहते हैं कि जो जीता वही सिकंदर, यानी जीत तो जीत होती है, चाहें कितने वोट से भी क्यों न मिली हो कम अंतर से जीत मिले, तो इसे अच्छी भाग्य ही बोला जाएगा इस लिहाज से देखा जाए तो मध्य प्रदेश में किस्मत ने कांग्रेस पार्टी साथ दिया है क्योंकि उसके कई उम्मीदवार बेहद कम अंतर से जीते हैं

सबसे भाग्यशाली उम्मीदवार
मिजोरम की तुईवाल सीट से मिजो नेशनल फ्रंट के उम्मीदवार ललछनदामा राल्टे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में सबसे भाग्यशाली उम्मीदवार रहे हैं ललछनदामा ने पार्टी पार्टी के उम्मीदवार के मुकाबले सिर्फ तीन वोट से जीत हासिल की है वे इन चुनावों में सबसे कम अंतर से जीत हासिल करने वाले उम्मीवार हैं

भाग्य ने दिया कांग्रेस पार्टी का साथ
राज्यों की बात करें तो मध्य प्रदेश में किस्मत ने कांग्रेस का साथ दिया यहां नतीजों को लेकर अंतिम समय तक सस्पेंस बरकरार रहा मध्य प्रदेश की 10 सीटें में जीत पराजय का अंतर 1000 वोट से भी कम है इनमें से 7 सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है, जबकि 3 सीटों पर भाजपा को विजय मिली

मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 114 सीट  भाजपा को 109 सीट मिली है दोनों के बीच सिर्फ पांच सीट का अंतर है, जबकि यहां 10 सीटों पर मुकाबला बेहद नजदीकी रहा है राज्य में भाजपा को 41%  कांग्रेस पार्टी को 40.9% वोट मिले हैं यहां भी देखा जाए तो किस्मत ने कांग्रेस पार्टी का साथ दिया क्योंकि कम वोट पाने के बाद भी वो ज्यादा सीट पाने में सफलरही

MP के भाग्यशाली उम्मीदवार
मध्य प्रदेश में सबसे नजदीक का मामला ग्वालियर सीट पर रहा जहां कांग्रेस पार्टी के नारायण सिंह कुशवाहा ने सिर्फ 121 वोट से जीत हासिल की बीना सीट से भाजपा के शशि कठोरिया ने 632 वोट से जीत हासिल की है, जबकि दामोह से कांग्रेस पार्टी के जयंत मलैया सिर्फ 798 वोट से जीत हासिल करने में सफल रहे जबलपुर से कांग्रेस पार्टी के शरद जैन 578 वोट से  सुवासरा सीट से कांग्रेस पार्टी के राधेश्याम नानालाल पाटीदार 350 वोट जीते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *