Breaking News

एक रिकॉर्ड भारतीय टीम बनाएगी तो दूसरा कप्तान विराट कोहली

जब 14 दिसंबर से दूसरे टेस्ट में उतरेगी तो उसके पास 41 वर्ष पुराना रिकॉर्ड बराबर करने का मौका होगा अगर वह पर्थ में खेला जाने वाला दूसरा टेस्ट जीतती है तो एक रिकॉर्ड भारतीय टीम बनाएगी तो दूसरा कप्तान विराट कोहली इंडियन टीम मौजूदा सीरीज में 1-0 से आगे है

 

टीम इंडिया 71 वर्ष में 11 बार ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर चुकी है यह उसका 12वां दौरा है सिर्फ एक बार ऐसा हुआ है, जब में एक सीरीज में दो टेस्ट मैच जीते हैं यह कारनामा 1977-78 की सीरीज में बिशन सिंह बेदी की कप्तानी वाली टीम ने किया था इसके बाद हिंदुस्तान ने 1981, 2003  2008 में टेस्ट मैच जीते, लेकिन कभी भी एक सीरीज में दो टेस्ट मैच नहीं जीत पाई

मौजूदा सीरीज में भारतीय टीम एक टेस्ट मैच जीत चुकी है अब अगर वह पर्थ में भी जीत जाती है तो 1977-78 के दो जीत के रिकॉर्ड को बराबर कर लेगी इतना ही नहीं, विराट कोहली भी बिशन सिंह बेदी के बतौर कप्तान दो मैच जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी करेंगे ऑस्ट्रेलिया में अबतक सिर्फ 5 कप्तान ही टेस्ट मैच जीत पाए हैं 1977-78 में बिशन सिंह बेदी, 1981 में सुनील गावस्कर, 2003 में सौरव गांगुली, 2008 में अनिल कुंबले  अब मौजूदा सीरीज में विराट कोहली

भारत को 1977-1978 में मिली पहली जीत 
हिंदुस्तान को ऑस्ट्रेलिया में अपनी पहली जीत के लिए 1977-78 तक इंतजार करना पड़ा हिंदुस्तान  ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच 1947-48 में खेला गया था   इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान सर डॉन ब्रैडमेन  हिंदुस्तान के लाला अमरनाथ थे इस सीरीज को ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 से जीता था इसके बाद 30 वर्ष के इंतजार के बाद बिशन सिंह बेदी की कप्तानी वाली टीम ने ऑस्ट्रेलिया में जीत हासिल की थी इंडियन टीम 1977-78 में बिशन सिंह बेदी की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया पहुंची उसे शुरुआती दो टेस्ट में पराजय का सामना करना पड़ा

इसके बाद हिंदुस्तान ने पलटवार करते हुए अगले दो टेस्ट मैच जीत लिए हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया में पहला टेस्ट 4 जनवरी 1978 को जीता उसने मेलबर्न में खेले गए इस मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया को 222 रन से हराया इसके बाद उसने सीरीज का चौथा टेस्ट 2 रन से जीता सीरीज के पांचवें  आखिरी मैच में हिंदुस्तान को 47 रन से शिकस्त झेलनी पड़ीइस तरह हिंदुस्तान यह सीरीज 2-3 से पराजय गया

सुनील गावस्कर की कप्तानी में 1981 में जीता मेलबर्न टेस्ट 
यह तीन मैचों की सीरीज थी हिंदुस्तान पहला टेस्ट एक पारी  4 रन से पराजय गया एडिलेड में खेला गया दूसरा टेस्ट सैयद किरमानी, कृष्ण घावरी  शिवलाल यादव की बदौलत ड्रॉ हुआ तीसरे टेस्ट के लिए हिंदुस्तान मेलबर्न पहुंचा ग्रेग चैपल ने टॉस जीता  आश्चर्यजनक रूप से पहले फील्डिंग करने का निर्णय किया गुंडप्पा विश्वनाथ ने शानदार शतक जमाया हिंदुस्तान की टीम पहली पारी में 237 रन बनाकर आउट हो गई ऑस्ट्रेलिया ने एलेन बॉर्डर के शतक की बदौलत 419 रन बनाए ऑस्ट्रेलिया को 182 रन की लीड मिलीदूसरी पारी में कप्तान सुनील गावस्कर  चेतन चौहान ने पहली विकेट लिए 165 रनों की भागीदारी की

सुनील गावस्कर को संदिग्ध निर्णय से आउट करार दे दिया गया हिंदुस्तान की टीम 324 रन बनाकर आउट हो गई ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 143 रन बनाने थे, लेकिन ऑफ स्पिनर शिवलाल यादव, कृष्ण घावरी  संदीप पाटिल ने शुरुआती विकेट झटक कर ऑस्ट्रेलिया के लिए मुश्किलें खड़ी कर दीं मैच के पांचवें दिन कपिल देव ने दिलीप दोषी के साथ गेंदबाजी प्रारम्भ की कपिल देव ने 17 ओवरों में पांच विकेट लेकर हिंदुस्तान को 59 रन से जीत दिला दी ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 83 रनों पर ढेर हो गई हिंदुस्तान ने टेस्टी सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली यह हिंदुस्तान की बड़ी नैतिक जीत थी

सौरव गांगुली की कप्तानी में 2003 में जीता एडिलेड टेस्ट
चार टेस्ट मैचों की यह सीरीज स्टीव वॉ के लिए फेयरवेल सीरीज थी ऑस्ट्रेलिया की टीम ग्लेन मैकग्रा  शेन वॉर्न के बिना खेल रही थी ब्रिसबेन में खेल गए पहले टेस्ट को हिंदुस्तानने कप्तान सौरव गांगुली के 144 रनों की बदौलत ड्रॉ कराया था एडिलेड, में स्टीव वॉ ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी का निर्णय किया रिकी पोन्टिंग ने दोहरा शतक लगा कर अपने कप्तान के निर्णय को सही साबित किया ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन का खेल खत्म होने पर 5 विकेट पर 400 रन बनाए अगले दिन ऑस्ट्रेलिया की पारी 556 रनों पर खत्म हुई

जवाब में हिंदुस्तान ने 82 रन पर अपने 4 जरूरी विकेट गंवा दिए सहवाग, सचिन, आकाश चोपड़ा  गांगुली पवेलियन लौट चुके थे लेकिन कोलकाता के हीरो राहुल द्रविड़  वीवीएस लक्ष्मण के बीच 303 रन की भागीदारी हुई लक्ष्मण 148 रनों पर 18 चौके लगाकर आउट हुए इंडियन टीम 523 रन बना सकी दूसरी पारी में हिंदुस्तान को अजित अगरकर के रूप में नया नायक मिला ऑस्ट्रेलिया को स्कोर 3 विकेट पर 44 रन हो गया ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 196 रन पर आउट हो गई हिंदुस्तान को जीत के लिए 230 रन बनाने थे हिंदुस्तानने यह रन बनाकर टेस्ट मैच जीत लिया

अनिल कुंबले की कप्तानी में 2008 में जीता पर्थ टेस्ट
सिडनी में ‘मंकीगेट कांड’ के तत्काल बाद पर्थ में टेस्ट मैच हुआ इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट 337 रन से जीत चुका था सिडनी में भी हिंदुस्तान को अंपायरों की वजह से पराजय का सामना करना पड़ा हिंदुस्तान के लिए तीसरे टेस्ट में, पर्थ में जीत यह साबित करने के लिए महत्वपूर्ण थी कि उनकी टीम में अब भी ताकत बची है हिंदुस्तान ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी की  330 का सम्मानजनक स्कोर बनाया द्रविड़ ने 93  सचिन ने 71 रन की पारी खेली मिशेल जानसन ने 4  ब्रेट ली ने 3 विकेट लिए नयी गेंद से गेंदबाजी करते हुए इरफान पठान ने दोनों ओपनरों को आउट कर दिया ईशांत ने रिकी पोन्टिंग को आउट किया

ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 212 रन पर आउट हो गई हिंदुस्तान को पहली पारी के आधार पर 118 रन की लीड मिल गई दूसरी पारी में सहवाग ने 43, इरफान पठान ने 46 रन बनाएहिंदुस्तान की जीत 350 हो चुकी थी  3 विकेट शेष थे हिंदुस्तान ने अंत में ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 413 रनों का लक्ष्य दिया ऑस्ट्रेलिया ने आरंभ में ही दो विकेट खो दिएऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 340 रन बनाकर 72 रनों से मैच पराजय गई सीरीज का चौथा टेस्ट एडिलेड में ड्रॉ रहा  हिंदुस्तान सीरीज 2-1 से पराजय गया

विराट कोहली की कप्तानी में 2018 में जीता एडिलेड टेस्ट
इंडियन क्रिकेट टीम ने मौजूदा दौरे में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध खेले गए पहले टेस्ट मैच में 31 रनों से जीत हासिल की है ऑस्ट्रेलिया को हिंदुस्तान की ओर से जीत के लिए 323 रनों का लक्ष्य मिला था लेकिन इंडियन गेंदबाजों ने उसकी दूसरी पारी 291 रनों पर खत्म कर मेजबान टीम को 31 रनों से हरा दिया हिंदुस्तान की इस जीत में चेतेश्वर पुजारा  अजिंक्य रहाणे की बल्लेबाजी के साथ-साथ रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा  जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी ने अहम किरदार निभाई है इस टेस्ट मैच में मिली जीत के साथ हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है

इसके साथ ही एडिलेड ओवल मैदान पर 2003 में मिली जीत को दोहराते हुए इंडियन टीम ने 15 वर्ष का सूखा खत्म किया साथ ही हिंदुस्तान एशिया की दूसरी टीम हैए जिसने किसी टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध पहले टेस्ट मैच में जीत हासिल की है इससे पहले पाक ने 1978-79 में ऐसा किया था इसके अलावाए हिंदुस्तान को पहली बार ऑस्ट्रेलिया में खेली गई टेस्ट सीरीज के पहले मैच में जीत हासिल हुई है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *