Breaking News

सीतारमण की पांच दिवसीय यात्रा संपन्न, पर ये डील रही अधूरी

रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण की पांच दिवसीय अमेरिका यात्रा शुक्रवार को संपन्न हो गई अधिकारियों ने बोला कि यह यात्रा हिंद महासागर में हिंदुस्तान की नौसैन्य क्षमताओं को बढ़ाकर दोनों राष्ट्रों के बीच रक्षा संबंधों को गति देने पर केंद्रित थी साथ ही इसका मकसद ‘मेक इन इंडिया’ प्रोग्राम में अमेरिकी कंपनियों की भागीदारी  द्विपक्षीय रक्षा कारोबार को बढ़ाना भी था

एफ-16 विमान मामले पर नहीं बन पाई बात
हालांकि इस दौरान एफ-16 विमानों के हिंदुस्तान में निर्माण या ड्रोन संबंधी सौदों को लेकर कोई घोषणा नहीं की गई अधिकारियों के मुताबिक रक्षा एरिया में हिंदुस्तान की जरूरतों आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए अमेरिका का रवैया सकारात्मक है  वह ऐसे कदम उठा रहा है जिससे उसे सामरिक लक्ष्यों को हासिल करने में मदद मिलेगी सीतारमण ने सोमवार को पेंटागन में पत्रकारों से बोला कि दोनों राष्ट्रों की ख़्वाहिश रक्षा एरिया में सकारात्मकता  तेजी से आगे बढ़ने की है

पीएम मोदी ने की थी अमेरिकी नेताओं से मुलाकात
पिछले एक महीने में पीएम नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के कई नेताओं से मुलाकात की है उन्होंने सिंगापुर में अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस से मुलाकात की थी इसके अतिरिक्तउन्होंने हाल ही में जी-20 शिखर सम्मेलन से इस इतर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  जापान के पीएम शिंजो आबे के साथ त्रिपक्षीय बातचीत की थी वहीं, इसी वर्ष गर्मियों के दौरान अमेरिका के रक्षामंत्री जेम्स मैटिस ने पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी रक्षामंत्री के रूप में पहली अमेरिका यात्रा के दौरान सीतारमण का भव्य स्वागत किया गयासीतारमण ने अपनी इस यात्रा के बारे में बोला कि यह द्विपक्षीय रक्षा योगदान को आगे ले जाने में मददगार होगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *