Breaking News

चार धाम के कपाट खुलते ही यात्रियों के लिए जारी हुई गाइडलाइन, जानिए किसे मिलेगी मंदिरों में एंट्री

चारधाम में पूजा को लेकर देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड ने गाइडलाइन जारी की है. इस संबंध में उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रविनाथ रमन ने आदेश जारी कर दिए हैं. इस दौरान पूजा सांकेतिक रूप से होती रहेगी.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा था कि महामारी की स्थिति के बीच यात्रा का संचालन संभव नहीं है. उन्होंने हालांकि, कहा कि चारधाम के नाम से मशहूर चारों हिमालयी धामों के कपाट अपने नियत समय पर ही खुलेंगे लेकिन वहां केवल तीर्थ पुरोहित ही नियमित पूजा करेंगे.

रावत ने कहा था कि ”तेजी से बढ़ रहे कोविड मामलों को देखते हुए चार धाम यात्रा को फिलहाल स्थगित किया जाता है. वहां केवल पुजारी ही पूजा पाठ करेंगे, बाकी लोगों के लिए यात्रा बंद रहेगी.”

मालूम हो कि यमुनोत्री के कपाट 14 मई को, गंगोत्री के कपाट 15 मई को , केदारनाथ के कपाट 17 मई को और बद्रीनाथ धाम के कपाट 18 मई को खुलने वाले हैं। आपको बता दें कि वैसे तो बद्रीनाथ, द्वारका, जगन्नाथ पुरी और रामेश्वरम भारत के प्रमुख चार धाम हैं, जिनके दर्शन के लिए हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु जाते हैं लेकिन बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री को छोटा चार धाम कहा जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *