Breaking News

अमित मिश्रा ने वीरेंद्र सहवाग से की सैलरी बढ़ाने की रिक्वेस्ट

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : दिल्ली कैपिटल्स ने मुंबई इंडियंस को मंगलवार को आईपीएल 2021 के 13वें मैच में 6 विकेट से हरा दिया। इस मैच में दिल्ली की तरफ से अमित मिश्रा ने शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने 24 रन देकर चार विकेट लिए। भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने अमित मिश्रा को लेकर साल आईपीएल 2008 का एक वाकया शेयर किया। सहवाग ने बताया कि 2008 में आईपीएल में हेट्रिक लेने के बाद मिश्रा ने उनसे उनकी सैलरी बढ़ाने की मांग की थी।

आईपीएल का सीजन साल 2008 में खेला गया था। उस समय वीरेंद्र सहवाग दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान थे। अमित मिश्रा ने दिल्ली की तरफ से खेलते हुए डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ हैट्रिक ली थी। क्रिकबज से बात करते हुए सहवाग ने बताया कि अमित मिश्रा एक शांत रहने वाले शख्स हैं और वो हर किसी के साथ विन्रमता से बात करते है। वह सबके साथ जल्दी घुलमिल जाते हैं। इसलिए वो अपने साथियों के पसंदीदा हैं। जब वो विकेट लेते हैं तो हर कोई खुश होता है। मुझे याद है जब उन्होंने पहली बार हैट्रिक ली थी, तो मैंने उनसे पूछा था तुम क्या चाहते हो और उसने कहा वीरू भाई प्लीज मेरी सैलरी बढ़वा दो।

उन्होंने आगे कहा कि अब उन्हें इतना पैसा मिल रहा है कि वो एक और हैट्रिक लेने के बाद सैलरी बढ़ाने की बात नहीं करेंगे। मिश्रा ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ दिल्ली की तरफ से किसी गेंदबाज के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का रिकॉर्ड बनाया है। उनके लिए कमबैक मैच था। चेन्नई सुपर किंग्स के साथ दिल्ली के ओपनिंग मैच के बाद उन्हें अगले दो मुकाबलो में नहीं खिलाया गया था। सहवाग ने मिश्रा को आईपीएल का सबसे बेहतरीन गेंदबाज बताया। हार्दिक पांड्या को अमित मिश्रा ने जीरो पर पवेलियन भेजा। उन्होंने कहा कि लेग स्पिनर मिश्रा कठिन चुनौतियों का सामना करने से नहीं घबराते हैं।

मंगलवार को खेले गए मैच में टॉस जीतकर मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 137 रन बनाए। मुंबई की तरफ से रोहित शर्मा ने सबसे अधिक 44 रनों की पारी खेली। पंत की अगुवाई में दिल्ली की टीम ने 138 रनों के लक्ष्य को 5 गेंद शेष रहते हुए हासिल किया। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 45 रनों की पारी खेली। उनके अलावा स्टीव स्मिथ ने 33 रनों का योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *