Breaking News

मुख्तार एम्बुलेंस मामले में पुलिस की कार्रवाई, डॉ. अलका राय समेत दो गिरफ्तार

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : मुख्तार अंसारी के एम्बुलेंस मामले में बाराबंकी पुलिस ने मऊ के श्याम संजीवनी हॉस्पिटल की संचालिका अलका राय और एसएन राय को गिरफ्तार कर लिया है। अलका राय के खिलाफ फर्जी वोटर आईडी लगाकर एम्बुलेंस पंजीकृत कराने का मुकदमा शहर कोतवाली में एआरटीओ ने दर्ज कराया था। पंजाब के रोपण जेल में बंद मुख्तार अंसारी मोहाली कोर्ट में जिस एम्बुलेंस से गया था वह बाराबंकी में पंजीकृत है। इसकी सूचना फैलते ही हड़कंप मच गया।

संभागीय परिवहन विभाग ने पत्रावली खंगाली तो डॉ. अलका राय निवासी रफीनगर बाराबंकी के नाम पर बनी वोटर आईडी के नाम पर एम्बुलेंस पंजीकृत पाई गई थी। वोटर आईडी फर्जी मिलने पर मऊ के श्याम संजीवनी हॉस्पिटल की संचालिका डॉ. अलका राय को नामजद करते हुए मुकदमा कोतवाली नगर में दर्ज कराया गया था। एसपी यमुना प्रसाद ने इस मामले में एसआईटी गठित करते हुए निरीक्षक एमपी सिंह के नेतृत्व में एक टीम मऊ भेजी थी और दूसरी टीम सीओ हैदरगढ़ नवीन सिंह के नेतृत्व में पंजाब भेजी गई थी।

12 अप्रैल को मऊ गई पुलिस टीम ने डॉ. अलका राय से गहन पूछताछ की। जिसके बाद वापस लौटकर शेषनाथ राय, मुख्तार अंसारी, मुजाहिद व राजनाथ यादव ने दबाव बनाकर प्रपत्रों पर हस्ताक्षर कराने फर सभी को साजिशकर्ता साबित करते हुए धारा 120बी, 506, 177 के साथ 7सीएलए एक्ट लगाया था। इस मामले में साजिशकर्ता राजनाथ यादव पुत्र मुनेश्वर यादव निवासी अहरौली थाना सरांय लखन को गिरफ्तार किया था।डाक्टर अलका राय समेत दो गिरफ्तार रू मऊ गई बाराबंकी पुलिस टीम ने सोमवार की देर रात को डाक्टर अलका राय व एसएन राय को फर्जी प्रपत्र पर एम्बुलेंस पंजीकृत कराने के मामले में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस दोनों को लेकर बाराबंकी आ गई है। दोनों से पूछताछ जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *