Wednesday , April 21 2021
Breaking News

सफ़ेद बालों की समस्या से न हो परेशान, इससे निजात पाने के लिए इन चीजों का सेवन करना छोड़ दे

बालों का सफेद होना बढ़ती उम्र की निशानियों में से एक है। सामान्य तौर पर 30 साल की उम्र के बाद बालों के रंग में परिवर्तन की स्थिति देखी जाती है। शुरुआत में बालों का रंग हल्का सलेटी और फिर धीरे-धीरे सफेद रंग में परिवर्तित होता है.

इसके अलावा यदि आप आमलकी रसायन का सेवन लगातार करें तो उससे भी आपको काफी लाभ होगा। परिणामस्वरूप आपके सफेद बाल काले होने लगेंगे।

यदि आपके घर में तिल का तेल है तो उसे हर रोज बालों में लगाएं। यह बालों को सफेद होने से रोकने के लिए काफी उपयोगी होता है। यदि तिल के तेल को लगाने के साथ उसका सेवन भी करें तो इसका फायदा जल्द ही आपको दिखाई देगा।

कम उम्र के लोगों को ही सफ़ेद दाढ़ी और सफ़ेद बालों की समस्या का सामना करना पड़ता है। आज हम आपको बतायेगे कम उम्र में सफ़ेद बालों और दाढ़ी आ जाने के कारण।हार्मोन और पैतृक के कारण आपको सफ़ेद दाढ़ी की प्रॉब्लम आ सकती है।

प्याज भी सफेद बालों को काला करने में मदद करता है। प्याज का पेस्ट बालों में लगाने से काफी फायदा होता है। कुछ महीने तक यह प्रक्रिया दोहराने पर सफेद बाल काले होने लगते हैं।खाने में बादाम, अखरोट, मछली आदि का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए। यह खाद्य साम्रगियां बालों को काला करने में मदद देती है।

जो लोग ज्यादा तनाव और गुस्से में रहते हैं, उनको कम उम्र में सफ़ेद बालों की प्रॉब्लम हो जाती हैं।धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन ज्यादा मात्रा में करने से आपको सफेद बाल और सफेद दाढ़ी की प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *