Thursday , April 15 2021
Breaking News

मुख्तार अंसारी के रोपड़ जेल से बांदा जेल आने तक, रही CM योगी की पैनी नजर

 

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : डॉन मुख्तार अंसारी और उसके गुर्गों पर हुई हर कार्रवाई पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बराबर नजर है। जीरो टॉलरेंस नीति के तहत पुलिस ने मुख्तार और उसके गुर्गों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 192 करोड़ से ज्यादा कीमत की सरकारी जमीन खाली करवाई और संपत्तियां जब्त कीं। इसमें ध्वस्तीकरण की कार्रवाई भी शामिल है।

पुलिस ने गिरोह के 96 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। 75 अपराधियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही भी की गई है। माफिया और उसके गैंग के 72 शस्त्र लाइसेंस निरस्त और निलंबित किए गए हैं। पीडब्ल्यूडी और कोयले की ठेकेदारी करने वाले सात सहयोगियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शस्त्र लाइसेंस निलंबित किए गए हैं। छह अन्य ठेकेदारों का चरित्र प्रमाण पत्र निरस्त किया गया है। गुंडा एक्ट के तहत 12 अपराधियों को जिला बदर किया गया है।

अफसा अंसारी और दो साले सरजील रजा, अनवर शहजाद के खिलाफ गाजीपुर में कुर्क की गई जमीन पर अवैध कब्जा करने पर मुकदमा दर्ज किया है। कब्जा मुक्त जमीन की कीमत करीब 18 लाख है और क्षतिपूर्ति के रूप में लगभग 26.5 लाख रुपये की वसूली की जा रही है। पुलिस ने माफिया की पत्नी और बेटों अब्बास अंसारी व उमर अंसारी सहित 12 लोगों के खिलाफ जालसाजी कर पट्टे की जमीन हड़प कर होटल बनाने पर मुकदमा किया है। साथ ही पत्नी व साले के खिलाफ गैंगेस्टर में भी मुकदमा किया गया है। इनके कब्जे से करीब 2.75 करोड़ की जमीन खाली कराई गई है।
वायरलेस सेट व एक बुलेट प्रूफ फाच्र्यूनर कार बरामद

पुलिस ने मुख्तार के सहयोगी हरविंदर सिंह उर्फ जुगनू की दो करोड़ 31 लाख 46 हजार की संपत्ति जब्त की है। जिसकी कीमत पांच करोड़ है। पुलिस ने माफिया के अन्य सहयोगियों के ठिकानों पर दबिश में मोबाइल, पांच वायरलेस सेट, छह बैट्री, एक बुलेट प्रूफ फाच्र्यूनर कार, तीन अवैध असलहे और 24 टिफिन बरामद किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *