Breaking News

गुरुवार के दिन इस मंदिर में भगवान् शिव की अराधना करने वाला हर शख्स होता हैं मालामाल

कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप के चलते देश में मॉल से लेकर हॉल और धार्मिक स्थल तक को बंद रखा गया था। अब अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने के बाद सरकार की तरफ से पाबंदियों में कई तरह की छूट दी गई हैं। इसी क्रम में लॉकडाउन के बाद कई प्रतिष्ठित मंदिरों को भी खोलने की इजाजत दे दी गई है।

इस गांव का नाम भगवान शिव के भक्त मणिभद्र के नाम पर रखा गया है। इस गांव को शापमुक्त होने का वरदान प्राप्त है जिससे यहां लोगों को अपने सभी पापों से मुक्ति मिलती है। यह गांव शिव के भक्त के कारण भी मशहूर है, ऐसा कहा जाता है कि जब माणिक शाह नाम का व्यापारी कहीं जा रहा था तो डाकुओं ने उसकी गर्दन काट दी थी।

गर्दन कटने के बाद भी उसके मुंह से शिव का मंत्रजाप चलता रहा था। भगवान शिव ने खुश होकर उसके धढ़ वराह का सर लगा कर जिंदा कर दिया। इसके बाद से उसकी गांव में पूजा होने लगी। भगवान शिव ने उसको यह वरदान दिया कि उसके गांव में आने वाले हर इंसान की परेशानी दूर हो जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *